प्रेमिका का मिसकॉल आता हैं….


शायर घर मे पत्नी के साथ बैठा है,
तभी प्रेमिका का मिसकॉल आता हैं..

शायर का प्रेमिका को शायरी में जवाब:

हवा की लहरें बनके मेरी खिड़की मत खटखटा,
मैें बंद खिड़की में बवंडर संभाल के बैठा हूँ



Source link

قالب وردپرس

Loading...
  • Leave Comments